विश्व भोजपुरी सम्मेलन-9 अप्रैल 10 2011  
  विश्व भोजपुरी सम्मेलन-9 जनवरी 2010  
  विश्व भोजपुरी सम्मेलन में भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल करने की मॉग - 2008
 
  भागवत कथा का आयोजन - 2007  
  पूर्वांचल स्वाभिमान समारोह - 2006  
  द्वारका में पूर्वांचल स्वाभिमान समारोह आयोजित - 2005  
  भोजपुरी भाषा के लिए प्रदर्शन - 2004  
  पूर्वांचल स्वाभिमान समारोह - 2003  
  विश्व भोजपुरी सम्मेलन में- 2002  
  पूर्वांचल स्वाभिमान समारोह - 2001  
   

 

किसी भी संस्था की ताकत उसकी समिति के बुलद इरादे वाले सदस्य होते हैं। पूर्वांचल एकता मंच (रजि.) की कोर टीम में ऐसे सदस्यों की कमी नहीं है जो अपने रोमर्रा की जिनदगी से दो हाथ करते हुए भी अपने समाज अपने क्षेत्र और अपने मातृभासा के बारे में न सिर्फ बौद्विक स्तर पर सोचते है बल्कि जरूरत पडने पर धरना प्रर्दशन और आंदोलन के लिए तैयार भी रहते है।
 
   


Media Coverage - 2010
Media Coverage - 2009
Media Coverage - 2008
Media Coverage - 2007
Media Coverage - 2006
Media Coverage - 2005
Media Coverage - 2004
Media Coverage - 2003
Media Coverage - 2002
Media Coverage - 2001

 

 
     
 

7वां विश्व भोजपुरी सम्मेलन 20-21 अप्रैल को 2013
 

हर साल की भांति इस साल भी द्वारका के मेला मैदान में 7वाँ विश्व भोजपुरी सम्मेलन होने जा रहा। जिसमें देश-विदेश से भोजपुरी प्रेमी, साहित्यकार, राजनेता एवं कलाकार शामिल होगें। पूर्वांचल एकता मंच (रजि.) दिल्ली की ओर से दिनांक 20 एवं 21 अप्रैल को 2013 को षनिवार एवं रविवार को ‘सातवाँ विश्व भोजपुरी सम्मेलन’ का आयोजन किया जा रहा है। इस समारोह में विचार संगोष्ठी, भोजपुरी कवि सम्मेलन, नाटक, लोकसंगीत एवं भोजपुरी सिनेमा के पचास साल पूरे होने पर भोजपुरी फिल्मों के प्रमुख कलाकारों, निर्देशकों, गीतकारो, संगीतकारो आदि को सम्मानित किया जायेगा। इस अवसर पर देश-विदेश से हिन्दी और भोजपुरी के जाने-माने साहित्यकार एवं पूर्वांचल संस्कृति प्रेमी भाग ले रहे हैं।
समारोह में भोजपुरी सिनेमा के पर ‘फिल्म विशेष एवं अवार्ड समारोह’ का विशेष सत्र 21 अप्रैल को आयोजित किया जा रहा है। भोजपुरी सिनेमा के प्रचार-प्रसार एवं उसकी लोकप्रियता की अभिवृद्धि में आपका योगदान अत्यंत सराहनीय रहा है।
पुर्वांचल एकता मंच के अध्यक्ष शिवजी सिंह ने कहा कि इस बार हम भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में अभी तक षामिल नहीं किए जाने के कारण अपने नेताओं से जानेगें। और पुछेगें की कब तक भोजपुरी को संवैधानिक मान्यता मिलेगी।’
वही संस्था के संयोजक मुकेश सिंह ने बताया कि इस बार हम भोजपुरी भाशा, साहित्य एवं संस्कृति के प्रचार-प्रसार के लिए विशेष कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर रहे है। जिसमें देश के जाने-माने कलाकार शिरकत करेगें।

6वां विश्व भोजपुरी सम्मेलन 2012

नई दिल्ली। पूर्वांचल एकता मंच के तत्वावधान में दो दिवसीय विश्व भोजपुरी सम्मेलन -2012 का आयोजन द्वारका सेक्टर -8 स्थित दादा देव मेला ग्राउण्ड में किया गया। सम्मेलन का उद्घाटन लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती मीरा कुमार ने किया। वहां उपस्थित विशाल जनसमुदाय को सम्बोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि 'भोजपुरी सबसे मधुर और सबको जोड़ने वाली भाषा है'। यह कारण है कि भोजपुरी में ‘मैं’ शब्द होता ही

 

 
 
८ वी अनुसूची में भोजपुरी भाषा को शामिल करने के लिए जंतर- मंतर पर धरना
 
 

पूर्वांचल एकता मंच के बैनर तले देश भर से जुटे हजारों भोजपुरी भाषा-भाषियों ने जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान पूर्वांचल एकता मंच के अध्यक्ष शिवजी सिंह ने सरकार से मांग की कि ‘भोजपुरी को अष्टम अनुसूची में सरकार अगर इसी सत्र में नहीं लाती है तो हम सड़क पर आने के लिए मजबूर होगे और देशव्यापी आंदोलन करेगे

 
     
 
भोजपुरी सिनेमा के स्वर्णिम वर्ष पर फ़िल्मी हस्तियाँ सम्मानित
 
 



भोजपुरी सिनेमा के 50 वर्षो की यात्रा में भोजपुरी फिल्मों ने उल्लेखनीय मानक स्थापित किया है और भोजपुरी फिल्मों ने देश विदेश में शूटिंग कर के दर्शकों को अच्छी फ़िल्में दी है. उक्त विचार था मशहूर पार्स्व गायक उदित नारायण का. श्री उदित नारायण ने दिल्ली मे पूर्वांचल ै..

 
   
   
  ´पूर्वांचल एकता मंच´ समस्त पूर्वांचलवासियों की अस्मिता व स्वाभिमान को मुखर स्वर प्रदान करने वाला एक सशक्त संगठन है। देश - विदेश में बसे करोड़ों पूर्वांचलवासियों की आकांक्षा अनुरुप यह संगठन पूर्वांचल की सामाजिक, सांस्कृति एवं भाषागत विरासत को संजोने व संवारने के लिए अपनी असीम उर्जा के साथ प्रयासरत है। अपनी अद्भुत संगठन क्षमता, रचनात्मक कार्यकलापों एवं परस्पर भावनात्मक एकता को सुदृढता प्रदान करने के लिए ´पूर्वांचल एकता मंच´ विशेष रुप से प्रयत्नशील है।  


  पूर्वांचल की संस्कृति, कला, भाषा - साहित्य व समृद्ध परंपराओं की विरासत के संरक्षण, संवधर्न एवं विकास के लिए ´पूर्वांचल एकता मंच´ विगत कई वर्षों से पूरी निष्ठा और समर्पित भाव से कार्य कर रहा है।
पूर्वांचल एकता मंच की स्थापना सन् 2000 में हुई। प्रथम आमसभा में श्री शिवजी सिंह सर्वसम्मति से इसके अध्यक्ष निर्वाचित हुए। उस सभा में संस्था की कार्यकारिणी का भी गठन किया गया। संस्था के सभी सदस्यों ने पूर्वांचल की एकता, अस्मिता व स्वाभिमान की रक्षा के लिए तन-मन-धन से सदैव तत्पर रहने की शपथ
 
   

 

  पर्व - त्योहार एवं कला-संस्कृति ही किसी समुदाय की पहचान है, और यही हर समुदाय के लोगों को आपस में जोड़ता भी है। पूर्वाचल वासियों को एक सूत्र में बॉध कर रखने के लिए महानगर की व्यस्तता भरी जिन्दगी में एक दूसरे से मिलने के लिए तथा अपनी धार्मिक व संास्कृतिक आस्तिा को बनाए रखने के लिए पूर्वांचल एकता मंच प्रतिवर्ष अष्टयाम, छठ पूजा, होली मिलन समारोह, जन्माष्टमी, आदि अनेक पर्व-त्योहारों का आयोजन करता है।  
   

भोजपुरी क्षेत्र के समग्र विकास को ध्यान में रखते हुए भोजपुरी भाषा, समाज, संस्कृति, कला, और साहित्य के संवर्धन एवं विकास तथा भोजपुरी भाषा को संविधान की अष्टम अनुसूची सम्मिलित कराने हेतु प्रयास करना।…
 

PHOTO GALLERY - 9th Jan 2010
VIDEO



 
 
भोजपुरी की बुलंद आवाज़
 
 

श्री प्रभुनाथ सिंह
 
   
 
24-25 मार्च २०१2 को दिल्ली में... विश्व भोजपुरी सम्मलेन का आयोजन
 
   
  *************************
 
 
   
 
  *************************  
   
   
  *************************  
   
 
 


शिवजी सिंह
अध्यक्ष
आर. जेड़. एच. ८९६, गली नंबर : १२
फोन : 91-11-25082935 ,
91-9810158423
E-mail:

shivji301@gmail.com

shivji@purvanchalektamanch.com

video / photo gallery / photo gallery / latest photos / email / history / our affiliates / offcials of airf / international affiliation / historic strikes

Purvanchal’s Stuggle / Strike & development / news from affiliates / Contact Us
E-mail: shivji@purvanchalektamanch.com